Home Exams #cancel12thboardexams2021: 12वीं के छात्रों ने की बोर्ड परीक्षा रद्द करने की मांग,...

#cancel12thboardexams2021: 12वीं के छात्रों ने की बोर्ड परीक्षा रद्द करने की मांग, ट्विटर पर करवा रहें है ट्रेंड

CBSE 12th Exam 2021: COVID-19 मामलों में वृद्धि के बीच, कक्षा 12वीं के छात्रों ने सरकार से आग्रह किया है कि 10वीं बोर्ड परीक्षाओं की तर्ज पर 12वीं की परीक्षाओं को भी रद्द करें। अभिभावकों और विद्यार्थियों का कहना है कि सीबीएसई द्वारा जब 10वीं की परीक्षा रद्द की जा सकती है तो फिर 12वीं की क्यों नहीं, जबकि स्टूडेंट्स तो दोनों ही बोर्ड परीक्षाओं में लाखों की संख्या में रजिस्टर्ड हैं।

बता दें कि देश में कोरोना की अत्यधिक भयावह स्थिति को देखते हुए संकट की स्थिति उत्पन्न हो गई है। कोरोना के चलते केंद्र और राज्य सरकारें सभी से घरों में सुरक्षित रहने की अपील कर रही है। ऐसे में बोर्ड परीक्षाओं के आयोजन को लेकर विद्यार्थी और अभिभावक असमंजस की स्थिति में हैं। सीबीएसई द्वारा दसवीं बोर्ड परीक्षाओं को रद्द और बारहवीं बोर्ड परीक्षाओं को स्थगित किए जाने की घोषणा के बाद बहुत से राज्यों ने भी परीक्षाएं रद्द और स्थगित कर दी हैं।

#cancel12thboardexams2021 छात्र ट्विटर पर ये हैशटैग चला रहे हैं –

- Advertisement -

विद्यार्थियों और अभिभावकों द्वारा सीबीएसई से 12वीं बोर्ड की परीक्षा को रद्द किए जाने की मांग उठने लगी है। अभिभावकों और विद्यार्थियों कहना है कि सीबीएसई द्वारा जब 10वीं की परीक्षा रद्द की जा सकती है तो फिर 12वीं की क्यों नहीं, जबकि स्टूडेंट्स तो दोनों ही बोर्ड परीक्षाओं में लाखों की संख्या में रजिस्टर्ड हैं। कोरोना पर नियंत्रण की स्थिति को देखते हुए बोर्ड द्वारा फैसला लिया जाना है। अगर स्थिति नियंत्रण में नहीं हुई तो परीक्षा रद्द करने पर विचार किया जा सकता है। बोर्ड परीक्षाएं शुरू होने के 15 पहले ही बार्ड द्वारा विद्यार्थियों शेड्यूल की जानकारी और नोटिफिकेशन के जरिए सूचित कर दिया जाएगा।

प्रधानमंत्री की मीटिंग में हुआ था फैसला –

बोर्ड द्वारा पिछले महीने अप्रैल में परीक्षा आयोजन को लेकर बड़ी मीटिंग बुलाई गई थी, जिसमें प्रधानमंत्री भी शामिल थे। इस मीटिंग के बाद केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने 10वीं परीक्षा को रद्द करने का फैसला किया है और 12वीं की परीक्षा का आयोजन 1 जून तक के लिए स्थगित कर दिया है। सीबीएसई ने घोषणा के वक्त स्पष्ट रूप से कहा था कि बारहवीं बोर्ड की परीक्षाओं पर निर्णय 1 जून के समय की स्थिति को देखते हुए ही लिया जाएगा। बोर्ड परीक्षाएं कैसे और कब आयोजित हो सकती हैं इसके बारे में जून के बाद ही फैसला लिया जाएगा।

बता दें कि पिछले वर्ष भी कोरोना संक्रमण की वजह से बोर्ड परीक्षा को मार्च में मिड-वे पर स्थगित करना पड़ा था। उन्हें बाद में रद्द कर दिया गया था और एक वैकल्पिक मूल्यांकन योजना के आधार पर परिणाम घोषित किए गए थे।

Most Popular

Notifications    OK No thanks